For Teleconsultation

5 घरेलू उपाय जो दूर कर सकते हैं आपके जोड़ों का दर्द

5 घरेलू उपाय जो दूर कर सकते हैं आपके जोड़ों का दर्द

home remedies for joints pain

    Home remedies for joints pain: एक समय था जब जोड़ों के दर्द (Joints Pain) को बुजुर्गों की समस्या से जाना जाता था। लेकिन आजकल के टाइम में यह समस्या युवाओं को भी सताने लगी है। खासतौर से कोरोना काल (Joints Pain COVID) के भारत में आने के बाद ज्यादातर युवाओं का वर्क फ्रॉम होम शुरू हो गया है जिसकी वजह से उनके बैठने और उठने के तरीके (posture of body) में काफी बदलाव आए हैं। 

    कोरोना से पहले जहां वर्किंग लोग दिनभर ऑफिस में कुर्सी पर बैठ कर अपना पूरा समय बिता देते थे तो वहीं  यही समय बिस्तर पर आड़ी तिरछी पोजीशन में गुज़रता है। और इसका सीधा नुकसान आपके जोड़ों पर पड़ता है। परिणाम स्वरुप आपको दर्द का सामना करना पड़ता है जिससे रोज़मर्रा की गतिविधियों को करने में परेशानी होती है। ऐसे में आज हम आपको ऐसे कुछ घरेलू उपाय बताने वाले हैं जिन्हें आज़माकर आपको जोड़ों के दर्द से आराम मिल सकता है।

    जोड़ों के दर्द के उपचार जाने से पहले आपका यह जानना बहुत जरूरी है कि जोड़ों का दर्द ज्यादातर ओस्टियोआर्थराइटिस,  रुमेटॉइड गठिया,  गठिया, बर्साइटिस, टेंडनाइटीस या स्ट्रेस या ऐसी कोई चोट जो जोड़ों के आसपास के लिगमेंट पर अपना असर डालती है, की वजह से होता है। इसके अलावा वजन बढ़ना, लंबे वक्त तक गलत तरीके से उठना बैठना भी पैर के जोड़ों में दर्द पैदा कर सकता है। ऐसे में आइए जानते हैं आखिर क्या है जोड़ों के दर्द को दूर भगाने के घरेलू उपाय (Home remedies for joints pain)

    ये भी पढ़ें: फ्रैक्चर कितने प्रकार के होते हैं? जानें कारण और ट्रीटमेंट

    अगर आप जोड़ों के दर्द से लंबे समय से परेशान हैं और घरेलू उपाय से भी आराम नहीं मिल रहा है तो आप हमारी साइट पर जाकर आर्थोपिडीशियन से संपर्क कर सकते हैं।

    weight loss for joints pain.

    कम करें वजन: सामान्य वजन से शरीर का ज़्यादा वजन होना एक साथ कई बीमारियों को दावत देता है। इन स्वास्थ्य परेशानियों में जोड़ो का दर्द भी एक समस्या है। अगर आपका वजन सामान्य से ज़्यादा है तो आपके शरीर के जोड़ों पर इसका असर पड़ता है। ख़ासतौर से आपके अधिक वजन का शिकार घुटने, कूल्हे और पैर बनते हैं। ऐसे में यदि आप वजन कम करते हैं तो आपके शरीर के अलग-अलग अंगों पर पड़ने वाला तनाव भी कम हो सकता है और आपको दर्द से छुटकारा मिल सकता है। इसके अलावा मोटापे से होने वाली अन्य समस्यायों से भी छुटकारा मिलता है। 

    massage in joints pain

    मालिश: अगर आपके जोड़ो में दर्द की समस्या है तो आप सस्ता और टिकाऊ घरेलू नुस्खा आज़मा सकते हैं। जी हाँ, रोज़ाना नियमित रूप से मालिश आपको काफ़ी आराम पहुंचा सकती है। मालिश करने से जोड़ों के दर्द और कठोरता कम होती है। वैसे तो आप घर में भी आराम से मालिश कर सकते हैं लेकिन इसका ज़्यादा फायदा उठाने के लिए आप फिजिकल थेरेपिस्ट (Physical Therapist for joints pain) को भी रख सकते हैं। हमारी सलाह है कि मालिश को आप किसी ऐसे व्यक्ति से करवाएं जिसको अनुभव हो या फिर ऐसा करवाने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह ले लें। 

    sendha namak for joints pain

    सेंधा नमक: सेंधा नमक आपके किचन में आसानी से मिल जाएगा। अगर नहीं भी है तो मार्केट में भी ये हर परचून की दुकान में आपको उपलब्ध मिलेगा। सेंधा नमक घर में ले आइये और इसके फ़ायदे उठाइये। सेंधा नमक ख़ासतौर से बुज़ुर्गो के जोड़ो के दर्द में  मैग्नीशियम सलफेट होने की वजह से आराम पहुंचता है। आप सेंधा नमक का उपयोग करने के लिए एक कटोरे में गर्म पानी लेकर उसमें एक कप सेंधा नमक यानी Epsom Salt डाल सकते हैं। इसके पानी में अच्छी तरह से मिलने और घुलने के बाद आप दर्द वाले हिस्से को इसमें डुबो दीजिए। आप चाहें तो इसको इस्तेमाल नहाने वाले पानी में भी कर सकते हैं। 

    methi ka beej for joints pain

    मेथी का बीज: आपके किचन के एक डिब्बे में रखी मेथी आपको जोड़ो के दर्द से आराम दिला सकती है, ये आपने शायद ही कभी सोचा हो। लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि मेथी में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लामेट्री (anitoxidant and inflamantory) गुण मौजूद होते हैं जो जोड़ो के दर्द को कम करने के काम आते हैं। इसका फायदा उठाने के लिए आप एक चम्मच मेथी पाउडर खा लीजिए और फिर एक गिलास पानी पी लीजिए। ऐसा नियमित रूप से करने से आपको आराम मिलने की पूरी संभावना है। आप चाहें तो रातभर मेथी के बीजों को पानी में भिगोकर सुबह इनका सेवन कर सकते हैं। 

    Oil Benefits: mustard oil or olive oil Which is more beneficial for health, benefits Of onlive oil, Cholesterol, heart disease

    जैतून का तेल: जैतून का तेल जोड़ो के दर्द और गठिया के लिए काफ़ी फायदेमंद होता है। जोड़ों पर जैतून का तेल लगाने से चिकनाई पैदा होती है जिससे दर्द कम होता है। जैतून के तेल में आइलोकैनथल मौजूद होता है जो दर्द वाले हिस्से आराम पहुंचता है। गठिया में होने वाले दर्द से छुटकारा पाने के लिए रोज़ाना जैतून के तेल से घुटनों की मालिश करें। इससे दर्द कम होता है और आपको आराम भी पहुंचता है। 

    अगर आप जोड़ों के दर्द से लंबे समय से परेशान हैं और घरेलू उपाय से भी आराम नहीं मिल रहा है तो आप हमारी साइट पर जाकर आर्थोपिडीशियन से संपर्क कर सकते हैं।

    Your Comments

      Related Blogs

      Nangloi : 8750060177

      Sonipat : 0130-2213088

      Panipat : 0180-4015877

      Karnal : 0184-4020454

      Safdarjung : 011-42505050

      Bahadurgarh : 01276-236666

      Kurukshetra : 01744-270567

      Kaithal : 9996117722

      Rama Vihar : 9999655255

      Kashipur :7900708080

      Rewari : 01274-258556

      Varanasi : 7080602222